Thursday, October 6, 2022
Homeताज्या खबरऐसा तिरंगा जो दिन-रात फहराया जा सकता है? जानिए तीन रंगों का...

ऐसा तिरंगा जो दिन-रात फहराया जा सकता है? जानिए तीन रंगों का महत्व

केंद्र सरकार ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ अभियान को बढ़ावा दे रही है और ‘हर घर तिरंगा’ अभियान 13 से 15 अगस्त के बीच चलाया जाएगा। इसी अभियान की पृष्ठभूमि में यह फैसला लिया गया है।

ध्वज संहिता 2002 में संशोधन
इस सप्ताह भारतीय ध्वज संहिता 2002 में संशोधन किया गया है। भारतीय ध्वज संहिता, 2002 के भाग II के पैरा 2.2 के खंड (11) को अब निम्नानुसार पढ़ा जाएगा।

‘जहां तिरंगा खुले में या नागरिकों के घरों में प्रदर्शित किया जाता है, उसे कहा जाएगा। दिन-रात फहराया जा सकता है। अब हाथ से बने या मशीन से बने कपास/पॉलिएस्टर/विद्या/रेशम खादी का तिरंगा आपके घर में भी फहराया जा सकता है।

ध्वज का आकार आयताकार होना चाहिए। तिरंगा कभी नहीं फटना चाहिए

पहले क्या था नियम

पहले सूर्योदय से सूर्यास्त तक ही तिरंगा फहराने की अनुमति थी। मौसम चाहे कैसा भी हो। इससे पहले, मशीन से बने और पॉलिएस्टर के राष्ट्रीय ध्वज को फहराने की अनुमति नहीं थी। भारतीय ध्वज संहिता, 2002 को एक अध्यादेश द्वारा संशोधित किया गया है।

‘हर घर तिरंगा’ अभियान क्या है?

मोदी सरकार ने स्वतंत्रता के 75 वें वर्ष पर स्वतंत्रता अमृत महोत्सव समारोह के दौरान लोगों को तिरंगा घर लाने और इसे फहराने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए “हर घर तिरंगा” अभियान शुरू किया है। इस दौरान 20 करोड़ घरों में राष्ट्रीय ध्वज फहराया जाएगा। इससे युवाओं में देशभक्ति की भावना पैदा होगी।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments